सोमवार, 26 अक्तूबर 2009

बात चीत के अंश

गदहे से गदही ने पूछा ये धोबन धोबी को ऐ जी कह के क्यों बुला रही है
गदही:-"वो सार्वजनिक तौर पर उसे अबे गधे का संबोधन नही करना चाहती "

6 टिप्‍पणियां:

  1. " bahut hi badhiya "

    ----- eksacchai { AAWAZ }

    http://eksacchai.blogspot.com

    plz welcome on my blog to read

    " भारत देश की लिलामी चालू है ,क्या आपको बोली लगानी है ?"

    उत्तर देंहटाएं
  2. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  3. he...he...he...he....ha...ha...ha...ha...hu..hu...hu...hu..hee...hee....hee....hee....hee...ho..ho
    ho....ho....ho....ha-ha-ha-ha-.......

    उत्तर देंहटाएं
  4. जूता भी मारो तो सलीके से - बहुत अच्छी सीख - इशारा मात्र ही काफी होता है

    उत्तर देंहटाएं